Toggle Nav

१००% हथकरघा ♦ पूर्ण अहिंसक ♦ श्रम पोषक ग्रामीण स्वरोजगार

My Cart 0 Item (s)

अमित सिंह राजपूत

अमित सिंह राजपूत

अमित सिंह राजपूत

उम्र २१, बुनकर

अमित पिछले 1 वर्ष से हथकरघा में काम कर रहा है, उससे पहले वह पड़ाई करता था परन्तु 12वि के बाद उसने पड़ाई छोड़ दी, जिसका कारण है उसके पिताजी के साथ ७ साल पहले हुआ हादसा जिसमे उनकी कमर टूट गयी थी और घर में समस्याओं का पहाड़ टूट गया, उस समय घर के चाचा इत्यादिक ने संभाल लिया परन्तु अब अमित के बड़े होने पर सब जिम्मेदारी उसके सर पर ही आ गयी और उन्हें निभाने के लिए उसने पड़ाई छोड़ दी| 

बीनाजी स्तिथ हथकरघा में प्रशिस्क्षण लेने के बाद आज वह रु12,000 प्रति माह अर्जित कर रहा है और अपने पिताजी का पूरा ख्याल रखता है साथ ही अपने छोटे भाई के ऊपर कोई बोझ नहीं आने देता | अब उसे और उसके परिवार को किसी का भी सहारा नहीं लेना पड़ता, ये स्वाभिमान का जीवन उसे हथकरघा से ही प्राप्त हुआ|


7 Items

per page
Set Descending Direction

7 Items

per page
Set Descending Direction